ताजा खबरअजीतमल

ससुराली जनों ने महिला को किया प्रताड़ित,एसपी से लगाई न्याय की गुहार

रिपोर्ट:सतेन्द्र सेंगर
औरैया: कोतवाली अजीतमल क्षेत्र के क़स्बा मुरादगंज अयाना रोड जाना निवासी एक महिला ने सोमवार को ककोर मुख्यालय पहुंचकर एसपी को शिकायती प्रार्थना पत्र दिया है। जिसमें उसने ससुराली जनों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। पीड़ित महिला ने ससुराली जनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

क्षेत्र के मुरादगंज अयाना रोड़ जाना निवासी कंचन तिवारी पुत्री शरद दुबे ने सोमवार को ककोर मुख्यालय पहुंचकर पुलिस अधीक्षक सुनीति को दिए शिकायती प्रार्थना पत्र में कहा है कि उसकी शादी करीब 3 वर्ष पूर्व औरैया के जनक नंदनी गेस्ट हाउस में हुई थी। शादी के कुछ समय बाद ससुराल वालों ने उसका मोबाइल फोन तोड़ दिया। जिससे वह अपने मायके वालों से बात भी नहीं कर पाती थी। पहली रक्षाबंधन को ससुराल वालै लड़ झगड़ कर भेजने को तैयार हुए। उसके पति ने कहा कि मायके वालों को कुछ भी नहीं बताना। यदि कुछ बताया तो पति का मरा हुआ मुंह देखेगी। जब उसका भाई लेने आया तभी ससुरालीजनों ने उसके सभी जेवरात छीन लिए ,और कहा कि यदि जेवर पहनने है तो अपने माता-पिता से बनवाकर पहनो। ससुराली जनों ने खर्चा के लिए पैसे भी नहीं दिए।

11 अगस्त 2017 को जब उसका पति उसे लेने आया तो उसकी मां ने कहा कि यदि वह उसकी बेटी को प्रताड़ित नहीं करेगा तभी वह अपनी बेटी को तुम्हारे साथ  भेजेगी। पति ने घर जाकर की भावनाओं से खिलवाड़ करने की कोशिश ,पीड़िता के मायके वालों को भयभीत करने के लिए फांसी लगाकर जान देने का प्रयास किया। जानकारी मिलने पर वह 1 घंटे के अंदर अपनी ससुराल पहुंच गई। पीडिता ने ससुरालीजनों पर गंभीर आरोप लगाते  हुए कहा कि गर्भावस्था में उसे 8 – 8 दिन तक ससुराली जनों ने खाना भी नहीं दिया, उसे भूखा रखा तथा बच्चे के लिए दूध की भी व्यवस्था नहीं की। विगत साढ़े 3 वर्ष से प्रताड़ना के चलते वह अपने मायके में रहने को मजबूर है। इस सन्दर्भ में ,कई बार बातचीत हुई,समझौता भी हुआ। किन्तु स्तिथि जस की तस है । गत 31 मार्च को सभी लोगों ने मिलकर उसके साथ मारपीट की। पेट में ऑपरेशन के स्थान पर चोट पहुचाने की कोशिश की । 12 अप्रैल से वह अपने मायके में ही रह रही है। पीड़ित महिला ने ससुराली जनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जाने एवं न्याय दिलायें जाने की गुहार लगाई है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button