अपना औरैयाताजा खबर

पंचायत चुनाव:आज औरैया जिला पंचायत को मिलेगा नया अध्यक्ष; जाने कैसे होती है वोटिंग और चुनाव?

औरैया: उत्तर प्रदेश के 75 जनपदों में से 22 जनपदों में जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए हैं। भाजपा 21 जनपदों में अध्यक्ष पद की सीट पर अपना कब्जा जमाने में कामयाब रही है। वहीँ समाजवादी पार्टी ने 1 सीट पर अपना कब्ज़ा जमाया हुआ है। 53 जनपदों के जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए आज 3 जुलाई को मतदान और मतगणना होगी। काफी लम्बे समय के बाद आज औरैया जनपद को भी अपना नया जिला पंचायत अध्यक्ष मिल सकेगा । भाजपा और समाजवादी पार्टी दोनों ही इस चुनाव में टक्कर की भागीदारी निभा रही हैं।  दोनों ही पार्टियों के कद्दावर नेता अपना अध्यक्ष बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। दोनों ही पार्टियाँ पंचायत चुनाव में बढ़त बनाकर आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए जनता को अपनी एकता और शक्ति का संदेश देने का प्रयास करती दिख रही हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए जनपद में या कहें समूचे प्रदेश में भाजपा और समाजवादी पार्टी के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। औरैया जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भाजपा ने अपना समर्थित प्रत्याशी श्री कमल दोहरे व समाजवादी पार्टी ने अपना समर्थित प्रत्याशी श्री रवि त्यागी को घोषित किया है। दोनों प्रत्याशियों ने अपनी पूरी शक्ति इस चुनाव में झोंक दी है ,अब देखना यह कि परिणाम किसके पक्ष में आता है। आज 11 बजे से 3 बजे तक जिला पंचायत सदस्य मतदान करेंगे,जिसके बाद मतगणना प्रारंभ होगी । आज शाम 5 बजे तक परिणाम आने कि सम्भावना जताई जा रही है।

इस रिपोर्ट में हम ये समझने की कोशिश करेंगे कि जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव कैसे होता है, चुनाव की प्रक्रिया क्या है?

चुनाव की प्रक्रिया क्या है?

उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष को सीधे जनता नहीं चुनती है बल्कि जनता द्वारा चुने गए जिला पंचायत सदस्य अपने ही बीच से किसी एक सदस्य को अध्यक्ष पद के लिए चुनते हैं। अन्य कई राज्यों में जिला पंचायत अध्यक्ष को सीधा जनता द्वारा चुना जाता है। लेकिन ऐसा अपने उत्तर प्रदेश में नहीं होता है,यहाँ जनता पहले जिला पंचायत सदस्य को चुनती है और इसके बाद यही  जिला पंचायत सदस्य मिलकर अध्यक्ष को चुनते हैं।

नामांकन(Enrollment) कैसे होता है?

यह चुनाव पार्टी आधारित नहीं होता है और न ही इसमें प्रत्याशियों को पार्टी का चुनाव चिन्ह दिया जाता है। इस चुनाव में प्रत्याशियों को पार्टी का समर्थन प्राप्त होता है। इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन पर्चे का मूल्य 1500 रुपये अन्नारक्षित वर्ग के लिए ,आरक्षित वर्ग या महिला प्रत्याशी के लिए 750 रुपये तय किया गया था । अन्नारक्षित वर्ग के लिए जमानत राशि 10 हजार रुपये(10,000) ,आरक्षित और महिला वर्ग के लिए यह राशि 5 हजार रुपये(5,000) तय की गई थी । अध्यक्ष पद के प्रत्याशी को चुनाव में अधिकतम चार लाख रुपये तक खर्च कर करने की छूट दी गई थी । बाकी चुनावों की तरह इस चुनाव में भी प्रत्याशी को नामांकन प्रक्रिया के निर्धारित सभी मानदंड पूरे करने होते हैं यदि वह निर्धारित मानदंडों को पूरा नहीं करता है तो उसका नामांकन निरस्त भी किया जा सकता है।

वोटिंग(Voting) कैसे होती है?

उत्तर  प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए मतदान बैलेट पेपर पर मुहर लगाने कि जगह  पर कलम(PEN) से 1 लिखकर किया जाता है। साफ शब्दों में कहें तो जिला पंचायत सदस्य बैलेट पेपर पर अध्यक्ष पद प्रत्याशी के आगे एक(1) लिखेगा। अगर चाहे तो अन्य प्रत्याशियों के सामने वरीयता क्रम के अनुसार से 2 और 3 भी लिख सकता है लेकिन जिसके आगे एक लिखेगा, मत उसी के पक्ष में माना जाता है।

 

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button