प्रधान मंत्री मोदी ने वाराणसी में 1500 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया; कोविड प्रबंधन के लिए योगी सरकार की प्रशंसा की

Share & Enjoy !!

PM Narendra Modi in Varanasi: पीएम मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे। जहाँ एयरपोर्ट पर उनका स्वागत यूपी की राज्यपाल आनंदी पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया। वाराणसी में आईआईटी-बीएचयू मैदान में 1500 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार ने दूसरी लहर को रोकने में एक सराहनीय काम किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरी लहर के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के कोविड -19 प्रबंधन की सराहना की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देशभर में एक ऐसा राज्य है जो सबसे अधिक परीक्षण के साथ साथ सबसे अधिक टीकाकरण भी करता है।


उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में सरकार ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में व्यापक काम किया है और कहा है कि मेडिकल कॉलेजों की संख्या में चार गुना वृद्धि हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि कई ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं और अस्पतालों में नए आईसीयू बेड जोड़े जा रहे हैं। उन्होंने कहा, इससे वाराणसी और आसपास के क्षेत्रों के लोगों के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा आसानी से सुलभ हो जाएगी। उन्होंने जिन सार्वजनिक परियोजनाओं का उद्घाटन किया उनमें बीएचयू में 100 बिस्तरों वाला एमसीएच विंग, गोदौलिया में बहु-स्तरीय पार्किंग,गंगा नदी पर पर्यटन विकास के लिए रो-रो वेसल्स और वाराणसी-गाजीपुर राजमार्ग पर तीन लेन का फ्लाईओवर पुल शामिल है।


उन्होंने लगभग 744 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन किया और लगभग 839 करोड़ रुपये की कई परियोजनाओं और सार्वजनिक कार्यों की आधारशिला रखी। इनमें सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोकेमिकल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (CIPET) का सेंटर फॉर स्किल एंड टेक्निकल सपोर्ट, जल जीवन मिशन के तहत 143 ग्रामीण परियोजनाएं और कारखियांव में आम और सब्जी एकीकृत पैक हाउस शामिल हैं।  उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं से वाराणसी के लोगों के जीवन को आसान बनाने में मदद मिलेगी।

पीएम ने रुद्राक्ष अंतर्राष्ट्रीय सहयोग सम्मेलन केंद्र का किया उदघाटन

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने रुद्राक्ष अंतर्राष्ट्रीय सहयोग सम्मेलन केंद्र(Rudraksh International Cooperation Convention Centre) का उद्घाटन किया, जिसे जापानी सहायता से बनाया गया था। इस कन्वेंशन सेंटर में 108 रुद्राक्ष स्थापित किए गए हैं और इसकी छत शिव लिंग के आकार की है।  रात में पूरी बिल्डिंग एलईडी लाइट से जगमगाएगी।  दो मंजिला कन्वेंशन सेंटर 2.87 हेक्टेयर भूमि पर पॉश सिगरा क्षेत्र में बनाया गया है और इसमें 1,200 लोगों के बैठने की क्षमता है।

 प्रधानमंत्री के संबोधन के कुछ प्रमुख बिंदुओं पर एक नजर

*योगी सरकार ने दूसरी लहर के दौरान जिस तरह से वायरस को फैलने से रोका है वह अभूतपूर्व है।

*आज यूपी एक ऐसा राज्य है जो पूरे देश में सबसे ज्यादा टेस्टिंग करता है।यह एक ऐसा राज्य है जो अधिकतम संख्या में टीकाकरण करता है।

*आज यूपी में सरकार भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद पर नहीं विकास से चलती है।

*यूपी, जिसमे कुछ साल पहले तक व्यापार करना मुश्किल समझा जाता था, मेक इन इंडिया के लिए पसंदीदा जगह बनता जा रहा है।

*प्रधानमंत्री ने कहा कि कभी नियंत्रण से बाहर होने वाले माफिया राज और आतंकवाद अब कानून की गिरफ्त में हैं।

*यूपी के साथ काशी ने भी कोरोना वायरस के खिलाफ बहादुरी से लड़ाई लड़ी।


*काशी पूर्वांचल का बड़ा मेडिकल हब बनता जा रहा है। आज काशी में भी उन बीमारियों के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं जिनके इलाज के लिए पहले दिल्ली और मुंबई जाना पड़ता था।

*काशी ने दिखा दिया है कि मुश्किल समय में भी ये ना रुकती है ना थकती है। पिछले कुछ महीने पूरी मानव जाति के लिए बहुत कठिन रहे हैं। लेकिन काशी समेत पूरे यूपी ने पूरी ताकत से कोरोना वायरस के बदलते और खतरनाक रूप का सामना किया।


Share & Enjoy !!

Leave a Reply

Your email address will not be published.