खुशखबरी: पूर्वजों की याद में शुरू की गई पर्यावरण संरक्षण मुहिम ने नेहा को दिलाया ‘राष्ट्रीय युवा पुरुस्कार’, दिल्ली के विज्ञान भवन में किया जाएगा सम्मानित

Share & Enjoy !!

औरैया: जनपद की बेटी नेहा कुशवाहा को भारत सरकार के युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय ने पर्यावरण संरक्षण में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए नेशनल यूथ अवार्ड से सम्मानित करने का फैसला लिया है। 12 अगस्त 2021 को दिल्ली के विज्ञान भवन में नेहा को किया जाएगा सम्मानित। नेहा को  प्रमाण पत्र और  मेडल के साथ साथ 50000 रुपए की सम्मानित राशि भी की जाएगी भेंट। आपको बता दें कि नेहा कुशवाहा ने पर्यावरण संरक्षण की अपनी मुहिम को लगभग 6 वर्ष पहले प्रारंभ किया था जिसके चलते उन्होंने काफी संख्या में पेड़ों को रोपा। उनके इन्ही प्रयासों को देखते हुए राष्ट्रीय युवा पुरुस्कार के लिए उनका चयन किया गया है। नेशनल यूथ अवार्ड में चयनित होने से जनपद में खुशी की लहर हैं। नेहा जनपद की बेटियों के लिए प्रेरणा बनी हुई हैं। वही इस खबर से उनके माता पिता भी काफी खुश हैं।

पूर्वजों की याद में शुरू की अपनी मुहिम

आपको बता दें नेहा ने लगभग 6 वर्ष पहले अपने पूर्वजों की याद में पर्यावरण संरक्षण (Environment Protection) की मुहिम शुरू की थी। नेहा 6 वर्षों से अपनी मुहिम में सक्रिय भागीदारी निभा रही है,जिसके फलस्वरूप उन्होंने लगभग 2588 पौधे रोपित किए हैं।इसके साथ साथ नेहा ने काफी संख्या में पौधों का दान भी किया है।

मुहिम बनी एक अभियान,दिलाया सम्मान

नेहा के मार्गदर्शक व सहयोगी शिक्षक मनीष कुमार ने मीडिया को बताया कि नेहा ने 7 मार्च 2015 को अपनी मुहिम की शुरुवात की थी,जिसने अब एक अभियान का रूप धारण कर लिया है। हम लोग आजीवन संकल्प के साथ पौधे रोपित करके व उनका दान करके लोगों को जागरूक करते रहेंगे। वहीँ  नेहा ने मीडिया को बताया कि हमारा योगदान केवल एक प्रतीक मात्र है। मेरे लिए सबसे खुशी की बात तो यह है कि हमारे छोटे से प्रयास से हजारों लोग जागरूक हुए हैं और इस मुहिम में  बढ़ चढ़कर हिस्सा लेकर पौधारोपण (Plantation) कर रहे हैं।

नेहा ने आगे बताया कि उनका चयन औरैया रत्न के लिए नही हो सका लेकिन भारत सरकार के युवा कार्यक्रम (Youth Program) और खेल मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय युवा पुरुस्कार (National Youth Award) के लिए चयन किए जाने की सूचना मुझे मेल से प्राप्त हुई,जिससे मैं बहुत खुश हूं। मुझे मिलने वाला यह पुरुस्कार देश की बेटियों में कुछ नया करने का जज्बा और हौसला देगा। इस पुरुस्कार के तहत मिलने वाली सम्मानित राशि हमारे अभियान को नई ऊर्जा व गति देने में सहायक होगी।

बेटी के सम्मानित होने की खबर से पिता खुश

नेहा को मिलने वाले राष्ट्रीय युवा पुरस्कार (Rashtriya Yuva Puraskar) की सूचना से पिता रामेन्द्र सिंह कुशवाहा काफी खुश और उत्साहित दिख रहें हैं। आपको बता दें कि नेहा के पिता एक शिक्षक हैं जो कि स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज (Swami Vivekanand Inter College) सहार में भौतिक विज्ञान विषय के प्रवक्ता पद पर कार्यरत हैं। रामेंद्र सिंह जी का कहना है कि बेटियां किसी से कम नहीं होती हैं बशर्ते उन्हें सही मार्गदर्शन, अच्छा वातावरण और उचित अवसर उपलब्ध कराए जाएं। नेहा ने इस उपलब्धि को हासिल कर समाज को यह दिखा दिया कि बेटियों में भी वही क्षमताएं होती है जो आपके बेटों में होती हैं।


Share & Enjoy !!